सत्य का सारथी

उत्तर प्रदेश में बीजेपी और बीएसपी की नूरा कुश्ती

0 225

उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की अंदर खाने चल रही गलबहियों के चलते , राज्यसभा चुनाव में नौ प्रत्याशी जीतने की स्थिति होते हुए भी बीजेपी ने बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी को राज्यसभा पहुंचाने के लिए केवल 8 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की बीएसपी सुप्रीमो और भाजपा के बड़े नेताओं से अंदर खाने हुई बातचीत के बाद बीएसपी प्रत्याशी के पक्ष में कोई समीकरण न होते हुए भी मात्र 14 विधायकों की ताकत पर राम जी गौतम ने नामांकन दाखिल कर दिया राजनीतिक गलियारों में कयास लगाए जा रहे हैं कि दसवीं सीट की जीत के लिए बीजेपी और बीएसपी ने अंदर खाने गठजोड़ कर लिया है बीजेपी ने उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के लिए केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, अरुण सिंह ,बृजलाल ,नीरज शेखर ,हरिद्वार दुबे ,गीता शाक्य,बी एल शर्मा और सीमा द्विवेदी को अपना उम्मीदवार बनाकर उत्तर प्रदेश के जातीय राजनैतिक समीकरण को साधने का प्रयास किया है यूपी विधानसभा में मौजूदा सदस्य संख्या के आधार पर जीत के लिए उम्मीदवार को 36 वोटों की आवश्यकता होगी। बीजेपी के आठ उम्मीदवारों की जीत तो तय है लेकिन पार्टी ने अभी अपने सारे पत्ते नहीं खोले हैं। ऐसे में सभी की नजरें मंगलवार को नामांकन के आखिरी दिन पर टिकी हैं बीजेपी और बीएसपी के अंदर खाने हुए इस गठजोड़ का असर उत्तर प्रदेश में होने वाले आगामी उपचुनावों में भी देखने को मिलेगा।

यूपी कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि बीएसपी और बीजेपी के बीच छुपन-छुपाई गठबंधन हुआ है। बीजेपी उम्मीदवार की लिस्ट जारी होने के बाद यूपी कांग्रेस ने ट्वीट किया, ‘बीजेपी की हालत पतली है। बीएसपी उपचुनावों में बीजेपी को वोट ट्रांसफर करे इसके लिए बीएसपी-बीजेपी के छुपन-छुपाई गठबंधन का ऐलान हुआ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.