सत्य का सारथी

उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव आरक्षण

0 36,104

न्यूज़ डेस्क पंचमोर्चा लखनऊ – published by शीलेश त्रिपाठी

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर यूपी सरकार ने शुक्रवार को जिला पंचायत अध्यक्ष के आरक्षण की घोषणा की। इसके तहत जिला पंचायत अध्यक्ष के 27 पद अनारक्षित यानी सामान्य रहेंगे। वहीं 12 सीट महिला और 27 सीटें ओबीसी के खाते में गई हैं। इसके अलावा जिला पंचायत अध्यक्ष की 16 सीटें एससी में आरक्षित की गई हैं। 

जिला पंचायत के आरक्षण की स्थिति शुक्रवार को साफ हो गई है। शासन के मुताबिक जिला पंचायत अध्यक्षों के आरक्षण की लिस्ट जारी कर दी गई है। 27 जिला पंचायत अध्यक्ष सीट अनारक्षित श्रेणी से होंगे, जबकि 48 आरक्षित। इनमें अनुसूचित जाति की 16 (6 महिला), पिछड़ी जाति की 20 (7 महिला) और 12 सीटें सामान्य महिलाओं के लिए आरक्षित हों मनोज कुमार सिंह ने बताया कि 826 ब्लॉकों में जिलेवार किस श्रेणी में आरक्षण होगा, यह राज्य स्तर पर जारी किया जाएगा। जिला पंचायतों की आरक्षण प्रक्रिया भी राज्य स्तर पर जारी होगी।

ग्राम पंचायत, जिला पंचायत और क्षेत्र पंचायत की जनसंख्या को डिसेंडिंग ऑर्डर में टेबल किया जाएगा। वर्ष 2015 में पंचायतों के आरक्षण की स्थिति को देखते हुए नीचे दिए गए क्रम के मुताबिक रोटेशन आगे बढ़ाया जाएगा-

1. अनुसूचित जनजातियों की महिलाएं
2. अनुसूचित जनजातियां
3. अनुसूचित जातियों की स्त्रियां
4. अनुसूचित जातियां
5. पिछड़े वर्गों की स्त्रियां
6. पिछड़ा वर्ग
7. महिला

डीएम 2 से 3 मार्च के बीच प्रधानों, ग्राम पंचायत, क्षेत्र और जिला पंचायत के आरक्षित प्रदेशिक आरक्षण निर्वाचन क्षेत्र के आवंटन की प्रस्‍तावित सूची का प्रकाशन करके आपत्तियां मांगेंगे। 4 मार्च से 8 मार्च तक लिखित आपत्ति दर्ज करवाई जा सकती हैं। 10 से 12 मार्च के बीच आपत्तियों को निपटाते हुए फाइनल सूची तैयार की जाएगी। 15 मार्च तक जिला अधिकारी को निदेशालय को आरक्षण की अंतिम सूची उपलब्ध करवाने को कहा गया है।

- Advertisement -

Leave A Reply

Your email address will not be published.